Sunday, October 9, 2011

क्या सरकारी नौकरी लगेगी ?

यह कुंडली एक जातिका की है जिसे यह मालुम करना है की उसकी नौकरी सरकारी लगेगी.लगन वृश्चिक है लगनेश मंगल कार्य भाव में है,कार्य के मालिक सूर्य है जो नौकरी या सेवा के भाव छठे भाव में मेष राशि के होकर बैठे है.सूर्य को साथ देने वाले ग्रहों में मंगल जो इस राशि का मालिक है,राहू जो शिक्षा और इसी प्रकार के क्षेत्र से सम्बन्ध रखता है,वक्री गुरु जो नीच के भाव में जाकर वक्री होकर उच्च का फल देने लगा है,वक्री शनि जो दिमागी कार्यों के लिए तथा जल्दी से धन कमाने के लिए अपनी योग्यता को देने वाला है.इस प्रकार से राहू का प्रभाव जातिका पर अधिक है कारण राहू ने पांच ग्रहों को एक साथ अपने कब्जे में किया है,और जब राहू का असर अधिक ग्रहों पर होता है तो वह जीवन में अपनी गति को देना शुरू कर देता है जैसे राहू के साथ मंगल होने से जातिका के कोइ भाई नहीं है,राहू का असर सूर्य होने पर जातिका के पिता भी नहीं है,राहू का असर वक्री गुरु के साथ होने पर जातिका के लिए उम्र अधिक हो जाने के बाद भी कोइ सम्बन्ध बनाने वाली बात भी नहीं समझ में आती है जो भी सम्बन्ध गुरु वक्री के समय में आते है वे गुरु के मार्गी होते ही अपने अपने रास्ते चले जाते है.राहू का प्रभाव अदिकतर पुरुष ग्रहों पर ही अधिक पड़ता है और वह स्त्री ग्रहों को अपनी गिरफ्त में आने से भी उनका कुछ नहीं बिगाड़ता है,जैसे केतु का स्थान माता के घर में है माता दोहरे काम एक साथ संभालती है माता के तीसरे स्थान में सूर्य है इसके लिए आता किसी सरकारी अधिकारी के पास अपना काम करती है या सरकारी नौकरी करने वाले व्यक्ति से अपनी सुरक्षा के लिए व्यवहार रखती है,उनके लिए जो कार्य माने जाते है वह स्कूली कार्यों के लिए जैसे भोजन बनाना शिक्षको की सेवा करना या उनके घरो में जाकर अपनी मेहनत से कार्य करना माना जाता है इसके अलावा अभी जातिका की माता घर को संभालने माता के दूसरे भाव में बुध के होने और बुध का केतु और सूर्य के बीच में होने से जो पापकर्तरी योग का निर्माण होता है वह अपनी चार लड़कियों की शादी विवाह और उनके लिए सुरक्षा के उपाय करना भी माना जाता है,जातिका के पास जो कार्य है वह चन्द्र और शुक्र की युति से मेल जोल रखने वाले कार्य माने जाते है जैसे किसी प्राइवेट कंपनी में जनता से जुड़े काम करना फाइनेंस या इसी प्रकार के कार्य करना लोगो को नौकरी देना या इसी प्रकार के कार्यों से कमीशन से कार्य करना आदि भी माना जाता है.पिछली इक्कीस मई के बाद जातिका की सरकारी नौकरी के लिए किसी ऐसे व्यक्ति से होनी मानी जाती है जो सरकारी क्षेत्र के अलावा भी जनता में अपनी पहुँच रखता है,उसके द्वारा की गयी हाँ का जबाब आने वाले सत्ताईस दिसंबर से कार्य रूप में आने की बात मानी जाती है.इस प्रयास से जातिका को यह ध्यान भी रखना पडेगा की केतु का संचरण भी उसके सप्तम में शुक्र और चन्द्र पर है,जब भी केतु शुक्र केतु पर अपना संचरण करता है तो ऐसे व्यक्ति का व्यवहार एक छलिया जैसा होता है जैसे की वह अपनी चाल से किसी प्रकार की शारीरिक या धन की हानि को करने वाला हो,या फिर वह किसी प्रकार से अपने लिए कार्य में हमेशा के लिए जातिका को प्रयोग करने के लिए भी माना जा सकता है वैसे केतु जब भी वृष राशि का होता है तो वह जातक को फायदा देने वाले स्थान से नुकसान का जिम्मेदार माना जाता है.जातिका को सूर्य को बल देने के लिए रूबी स्वर्ण धातु में बनवा कर बाए हाथ की अनामिका उंगली में धारण करना चाहिए,अगर सुलभ नहीं है तो मशाले में प्रयोग होने वाले तेजपत्ता को साफ़ करने के बाद उस पर रविवार के दिन ॐ ह्रीं नमः लाल चन्दन या केशर या हल्दी से लिख कर गुलाबी कपडे में बाँध कर अपने बाए हाथ की भुजा में बाँध लेना चाहिए,इसके अलावा भी रोजाना उपरोक्त सूर्य मन्त्र सुबह को नहाधोकर एक सौ आठ बार जाप करने के बाद ताम्बे के लोटे में स्वच्छ पानी थोड़ा सा सिन्दूर दूध चीनी एक लाल फूल डालकर सूर्य भगवान को अर्पित करना चाहिए.

6 comments:

  1. Dear Sir,

    I have been struggling throughout my life for a proper career.

    Please guide me what to do to find a stable career as I have very little time as I am already 45.

    Date of Birth: 28-07-1966 Time :00:05 Hrs I am not sure whether the date is 28 or 29 as I was born in midnight and parents were also not sure about a particular date. Place of Birth is : Dhulia (MS)

    Name : S. P. Singh (Now in Hyderabad)

    ReplyDelete
  2. Dear Rajesh
    send your question through www.astrobhadauria.com
    Thanks for your valuable comment.

    ReplyDelete
  3. Dear Sir,

    I Gulshan D.O.B. 30-08-1978 Time: 11:15 PM. Place: Delhi.

    Please tell me: Kya mere Permanent Job ho gi, aur mera apna makan kab tak bane ga

    jo ki mei abhi tak kahi bhi satification job nahi mil rahi

    Gulshan

    ReplyDelete
  4. Pandit ji prnam..
    Pandit ji mera Naam Anurag Tiwari Hai mera janm 16/10/1989 ki ratri 11:59pm pr Sultanpur Uttar Prdesh me huaa hai.. Pandit ji kya meri kundli me Sarkari Nokri ke yog hai..agar hai to is yog ka fal kab milega.. Pandit ji krpiya margdarshan karen...

    ReplyDelete
  5. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete